अखिलेश के जेपीएनआईसी प्रोजेक्ट में एक पेड़ की कीमत 1.69 करोड़ रुपये,करोड़ों के घोटाले की आशंका.

अखिलेश यादव की सरकार में बन रहे जय प्रकाश नारायण इंटरनेशनल सेंटर (जेपीएनआईसी) में हुए घोटालों की परतें खुलने लगी हैं.कमीशन के लालच में एलडीए के वीसी समेत कई अधिकारीयों ने सैकड़ों करोड़ रुपये की हेराफेरी कर दी है।योगी सरकार में आवास एवं शहरी नियोजन मंत्री सुरेश पासी ने एलडीए के वीसी सतेंद्र सिंह के साथ-साथ इस घोटाले में लिप्त कई भ्रष्ट अफसरों की सूची तैयार कर ली है। अब मंत्री सुरेश पासी सोमवार को अपनी रिपोर्ट सीएम योगी आदित्यनाथ को सौंपेंगे. जिसके बाद सतेंद्र सिंह, संपत्ति अधिकारी केके सिंह, अधिशासी अभियंता डीसी सचन, संजीव कुमार समेत एलडीए के कई अफसरों के ऊपर कभी भी गाज गिर सकती है।
मंत्री ने अखिलेश सरकार के उस दावे को भी ख़ारिज कर दिया जिसमे कहा गया था कि जेपीएनआईसी का 85 फ़ीसदी नरीमन पूरा हो चुका है। मंत्री ने कहा कि एलडीए से तीन बार खर्चे का ब्यौरा मांगने के बाद भी दस्तावेज मुहैया नहीं कराए गए। बता दें जेपीएनआईसी अखिलेश सरकार के सभी विकास योजनाओं में से एक अहम प्रोजेक्ट है। इस प्रोजेक्ट को वर्ल्ड क्लास कन्वेंशन और स्पोर्ट्स काम्प्लेक्स के तौर पर विकसित किया जा रहा है.

News Posted on: 17-04-2017
वीडियो न्यूज़